How to achieve Whatever you want ?

How to achieve Whatever you want ?
How to achieve Whatever you want ?

 

You Can achieve Whatever you want.

 
 
    Ever seen the magnet?  How is it attracted to iron, how it attracts iron. Because in his nature there is an attraction.
 
    There is a similar magnet in all human beings. The magnet of thoughts.
 
     The person who thinks like him, so his life goes on ahead. What we sow, they cut the same. In the same way, we get what we think. If a person chants the name of God, then he gets God.
 
      If the drop of rain falls into an oyster, then becomes the pearl.  The same drop falls in the mouth of a snake, becomes a poison.

     The drop is the same, But its destiny is different. Because the person who attracts him is different. 
    That is, the result depends on our thinking. Therefore, your future depends on your thinking. We become the same as we think. As believe.

 

    But always remember. We must have complete faith in our thoughts. If you do not believe in your thoughts, then your thoughts are of no value.

And this is the belief that determines what you want, and what you can get. So keep your thinking strong, keep positive and results will also be positive too.

 

 

आप जो भी चाहते हैं उसे कैसे प्राप्त करें?

 
कभी चुंबक को देखा है ? कैसे वह लोहे की ओर आकर्षित होता है, कैसे वह लोहे को अपनी ओर आकर्षित करता है | क्योंकि  उसके स्वभाव में ही आकर्षण है|
 
 
 सब मनुष्य के  भीतर भी एक ऐसा ही चुंबक होता है | विचार का चुंबक |
जो व्यक्ति जैसा विचार करता है |वैसे ही उनका जीवन आगे बढ़ता है | हम जो बोते हैं |वही काटते हैं | उसी प्रकार, हम जैसा सोचते हैं वैसा ही पाते हैं |
 कोई मनुष्य ईश्वर का नाम जपता है, तो उसे ईश्वर मिल जाता है

 
   बारिश की बूंद अगर सीप में गिरे तो मोती बन जाती है | वही  बूंद  सर्प के मुख में गिरे तो ज़हर बन जाती है | बूंद एक ही है  परंतु उसके प्रारब्ध  भिन्न है | क्योंकि उसे आकर्षित करने वाले का व्यवहार  भिन्न है| अर्थात परिणाम हमारी सोच पर निर्भर करता है | इसलिए, आपका भविष्य आपकी सोच पर निर्भर करता है | हम वैसे ही बन जाते हैं जैसा हम सोचते हैं| जैसा विश्वास रखते हैं |

  परंतु सदा स्मरण  रखिए | हमारे विचारों पर हमें पूरा विश्वास होना चाहिए | अगर आपके विचारों पर आपको विश्वास नहीं है तो, आपके विचार का कोई मूल्य नहीं है |

 

     और यह विश्वास ही है जो निर्धारित करेगा कि आप को क्या चाहिए ,और आपको क्या मिल सकता है | इसलिए अपनी सोच को  सुदृढ़ रखिए ,सकारात्मक रखिए और परिणाम भी सकारात्मक ही आएगा |
 
 
 
 

Think About Yourself

How to achieve Whatever you want ?

One thought on “How to achieve Whatever you want ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *